एक बार फिर अमरनाथ यात्रा हुई रद्द

एक बार फिर अमरनाथ यात्रा हुई रद्द

एक बार फिर अमरनाथ यात्रा हुई रद्द 

देश में कोरोनोवायरस महामारी के मामले 12 लाख के आस पास पहुंच चुके हैं और इसके चलते बहुत से प्रोग्रामों को रद्द कर दिया गया है। हिन्दू धर्म की सबसे बड़ी मानी जाने वाली यात्रा जिसे अमरनाथ यात्रा के नाम से जाना जाता है के रद्द होने की घोषणा में जम्मू कश्मीर सरकार ने नोटिस जारी करते हुए कहा कि श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने परिस्थितियों के आधार पर यह निर्णय लिया है कि इस वर्ष होने वाली अमरनाथ यात्रा को रद्द किया जाएगा। यह लगातार दूसरे साल  रद्द हो गई है पिछले साल धारा 370 के मुद्दे के चलते पूरे जम्मू कश्मीर में कर्फ्यू लगा दिया गया और उसके आधार पर यह यात्रा रद्द कर दी गई थी।  

श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड ने परिस्थितियों के आधार पर निर्णय लिया कि इस वर्ष यात्रा का आयोजन करना उचित  नहीं है और इस वर्ष की श्री अमरनाथजी यात्रा का आयोजन और संचालन ना कर पाने और यात्रा 2020 को रद्द करने की घोषणा करने पर खेद व्यक्त किया, बोर्ड ने आगे चर्चा की कि महामारी ने स्वास्थ्य प्रशासन प्रणाली को परेशानी में डाल दिया है। जुलाई महीने में फैलाव विशेष रूप से बहुत तेज रहा है। स्वास्थ्य कार्यकर्ता और सुरक्षा बल भी संक्रमित हो रहे हैं और फिलहाल पूरे मेडिकल, सिविल और पुलिस प्रशासन का ध्यान COVID-19 महामारी के स्थानीय संचरण पर है। चिंताएं इतनी गंभीर हैं कि स्वास्थ्य प्रणाली पर दबाव, संसाधनों में बदलाव के साथ-साथ यात्रा में भी भारी कमी आएगी।


लेकिन रद्द होने के बाद यह निर्णय लिया गया कि इसके साथ ही श्री अमरनाथ यात्रा करने का लाभ टेलीविजन पर लिया जा सकता है।भक्तों के लिए, अमरनाथ श्राइन बोर्ड लाइव टेलीकास्ट करेगा।  सुबह में दर्शन और शाम को आरती होती है। पारंपरिक अनुष्ठानों का पालन किया जाएगा। जहां एक ओर श्रद्धालुओं को निराश  होना पड़ा वहीं दूसरी ओर कई श्रद्धालुओं के लिए यह खुशी की बात है कि अमरनाथ का लाइव दर्शन का मौका मिलेगा। क्योंकि यह हिन्दू धर्म में एक बहुत बड़ा तीर्थ स्थान माना जाता है। जिस यात्रा को करने की तमन्ना हर एक व्यक्ति के मन में होती है।  

बोर्ड ने कहा-
"हर साल लगभग 12 लाख भक्त अमरनाथ गुफा के दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त करते हैं बोर्ड लाखों भक्तों की भावनाओं से परिचित है और उनका सम्मान करता है और धार्मिक भावनाओं को जीवित रखने के लिए बोर्ड सुबह और शाम की आरती का लाइव टेलीकास्ट जारी रखेगा। इसके अलावा, पारंपरिक रीति-रिवाजों को पिछले अभ्यास के अनुसार किया जाएगा।और इन सब कार्यक्रमों के दौरान सामाजिक दूरी का पूरा पालन किया जायेगा "

कोरोना के चलते कई मंदिरो को पूर्णतया बंद कर दिया था हालाँकि अब उनको आंशिक तौर पर खोला जा चुका है। परन्तु सरकार पूरी सतर्कता अपनाने पर जोर डाल रही है। जिससे कि भले पूरा ही नहीं पर कुछ हद तक तो कोरोना के केस को काम किया जा सके। 
E-gyankosh

0 Response to "एक बार फिर अमरनाथ यात्रा हुई रद्द "

टिप्पणी पोस्ट करें

if you have any doubt or suggestions please let me know.

Advertise in articles 1

advertising articles 2